वापसी के मुकाबले में जडेजा अपने प्रदर्शन से संतुष्ट हैं 

 

बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज रविन्द्र जडेजा जिन्होने एशिया कप के दौरान बांग्लादेश के खिलाफ चार विकेट लिए, वो अपने प्रदर्शन से काफी संतुष्ट हैं.
गौरतलब है कि जडेजा को पिछले साल की चैम्पियन ट्रॉफी के बाद ड्रॉप कर दिया गया था, पर अक्षर पटेल के चोटिल होने के बावजूद उन्हे टीम में वापस बुला लिया गया.

 

जडेजा ने मिले मौके का पूरा फायदा उठाते हुए, केवल 29 रन देकर बांग्लादेश के 4 बल्लेबाजों को चलता किया.

 

मीडिया को संबोधित करते हुए जडेजा ने कहा कि वे अपनी वापसी के मुकाबले को याद रखेंगे. गौरतलब है कि वे कुल 460 दिनों के बाद टीम में वापस आये हैं.
उन्होने टेस्ट श्रृंखला का भी जिक्र करते हुए कहा कि उन्हे पिछली कुछ टेस्ट श्रृंखलाओं में मौका नहीं दिया गया. इसका कारण यह हो सकता है कि वे विदेशी पिचों पर खेली जा रही हैं. हालांकि वे समर्पित थे कि उन्हे जब भी मौका मिलेगा वे प्रदर्शन करेंगे. इसके अलावा उनके हाथ में कुछ भी नहीं.

 

जडेजा ने यह भी कहा कि इस दौरान उनका सारा ध्यान केवल अपने खेल पर और खेल को बेहतर बनाने पर था.
विश्वकप के बारे में नहीं सोच रहे जडेजा 

 

जब जडेजा से विश्वकप 2019 के विषय में पूछा गया तब बाएं हाथ के स्पिनर ने कहा कि विश्व कप को अभी काफी समय है और उससे पहले उन्हे काफी मुकाबले खेलने हैं. उन्होने कहा कि वे अभी कोई टिप्पणी नहीं कर सकते हालांकि उन्हे जब भी मौका मिलेगा वे आज जैसा प्रदर्शन ही दोहराना चाहेंगे.

 

बांग्लादेश के खिलाफ खेलने पर बात करते हुए जडेजा ने कहा कि यह पिच बहुत ज्यादा धीमी थी और धीमी पिचों पर आपको अपनी ओर से सुझ बुझ का इस्तेमाल करना होता है. उन्होने बताया कि सामान्य विकेट पर गेंद टप्पा खाने के बाद खुद ऐसे उछलती है कि इससे बल्लेबाज को समय नहीं मिलता, पर धीमी पिच पर ऐसा नहीं होता. धीमी पिच पर आपको ज्यादा मेहनत करनी होती है और सतर्क होकर गेंदबाजी करनी होती है.

 

ट्विटर ने रविन्द्र जडेजा के प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया दी